Arjit Singh-Agar Tum Saath Ho Lyrics | अगर तुम साथ हो |arjit singh | Agar Tum Saath Ho Lyrics

“Agar Tum Saath Ho lyrics”

अगर तुम साथ हो
जब अपने कोई खास हो
अगर तुम साथ हो
जब अपने कोई पास हो

तुम्हें क्या बताऊं
के क्या है दिल में क्या
तुमहीं कहो
अगर तुम साथ हो

बहती रहती
नहर नदिया सी तेरी दुनिया में
मेरी दुनिया है तेरी चाहतों में
मैं ढल जाती हूँ तेरी आदतों में

अगर तुम साथ हो
तुम यूंही जलते रहें
राहों में कांटे भिखर रहें
अगर तुम साथ हो
तुम ये दिल से पूछो
क्या है मेरी दास्तान

मैं किसी की हूँ ना मुझे तुम गवारा हो
मेरा आसमान ढूंढे तेरी ज़मीन
मेरी हर कमी को है तू लाज़मी
जुनून है मेरा
बनूं मैं तेरे काबिल

तुम्हें क्या बताऊं
के क्या है दिल में क्या
तुमहीं कहो
अगर तुम साथ हो

तेरी नज़रों में है तेरे सपने
तेरे सपनों में है नराज़ी
मुझे लगता है के बातें दिल की
होती लफ़्ज़ों की धोकेबाज़ी

तुम साथ हो या ना हो
क्या फ़र्क़ है
बेदर्द थी ज़िंदगी बेदर्द है
अगर तुम साथ हो

अगर तुम साथ हो

want another lyrics please click here

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *